Top Connect

श्री गणेश को अर्पित किए स्वर रंजनी के पुष्प

संगीत से की श्री गजानंद महाराज की आराधना
गणेशोत्सव के अवसर पर हुआ आयोजन
मराठी व हिंदी गानों से सजी शाम
उज्जैन.गणेशोत्सव के अन्तर्गत महाराष्ट्र समाज में श्री गणेश भगवान के चरणों में स्वर रंजनी के पुष्प अर्पित किए। विक्रम कीर्ति मंदिर में आयोजित हुई सुर गंगा की अविरल धारा प्रवाहमान हुई जिसमें श्रोता  मंत्रमुग्ध होते देखे गए। कार्यक्रम में पुणे के प्रसिद्ध एकॉर्डियन वादक अनिल गोड़े व उनके साथ राजेन्द्र काम्बले (सेक्साफ़ोन),सुभाष विलेकर(हवाइन गिटार),अविनाश मातापुरकर(बांसुरी),अजय ढमढेरे(माउथ ऑर्गन),संतोष महाले(ढोलक),कपिल राठौड़(आक्टोपेड़),रवि खेड़े(साइड रिदम),जितेंद्र शितरे(की बोर्ड व पाइप ऑर्गन)पर अपनी कला का प्रदर्शन करते देखे गए। संगीत की मधुर बेला में राजा विक्रमादित्य की नगरी में उनके नवरत्न इन 9 ही साज साधकों के रूप में अवतरित होते देखे गए।
15044496750.jpeg
कार्यक्रम में चार घंटे तक संगीत के साधकों ने शंकर जयकिशन,एस डी बर्मन,ओ पी नैय्यर,मदन मोहन,आर डी बर्मन,लक्ष्मीकांत प्यारेलाल जैसे महान संगीतकारों की विरासत के खजाने में से अविस्मरणीय गानो जैसे बाबूजी धीरे चलना, मेरा नाम चीन चीन चू,यू तो हमने लाख हंसी देखे है,रूप तेरा मस्ताना,ये दुनिया उसी की,मेरे सपनों की रानी,बार बार देखो हजार बार जैसे अति कर्णप्रिय गानों को जब बजाया तब हर गानो पर श्रोता झूम उठे हर गाने पर तालियों की गड़गड़ाहट से हाल गूंजता रहा। कार्यक्रम का समापन वीर सावरकर जी द्वारा लिखित गीत जयोस्तुते की प्रस्तुति दी गई। 
15044496751.jpeg
मंच से समाज के वरिष्ठ व समर्पित कार्यकर्ता आनंद केसकर जी का सार्वजनिक सन्मान शाल श्रीफल व प्रशस्ति पत्र देकर समाज अध्यक्ष सुभाष अमृफले,सचिव भुषण नाईक ने किया। कार्यकम के मुख्य अतिथि डॉ. श्रीसुरेंद्र बापट व डॉ. सौ.कविता बापट थें इनका सम्मान समाज के अभय मराठे ने किया। गणेशोत्सव समिति के अध्यक्ष वसंत आप्टे, सचिव दीपक अवसरकर, सुधिर अरोन्देकर, अतुल मुजुमदार, गौरव राजेन्द्र गडकरी, योगेश जवखेड़कर ने कार्यक्रम में पधारे अतिथियों एवम कलाकारों का सन्मान पुष्पहार पहनाकर व स्मृति चिन्ह भेंट कर किया गया.कार्यक्रम का संचालन पुजा भालेराव और अजीत कालकर ने किया। 

Latest News

Top Trending

Connected citizen rewa

  • Sidhi-DPRO-Rews