Top Connect

मध्यप्रदेश में 10 हजार 736 बच्चे गंभीर कुपोषित

प्रदेश में 29 लाख 61 हजार बच्चों की हुई जांच
2408 बच्चों को एन.आर.सी में किया भर्ती
539 गंभीर एनिमिक बच्चों का किया ब्लड ट्रांसफ्यूजन
भोपाल. मध्यप्रदेश में चल रहे दस्तक अभियान में अब तक 29 लाख 61 हजार बच्चों की जांच हुई है। राज्य नोडल आफिसर डॉ. प्रज्ञा तिवारी के अनुसार प्रदेश में करीब 10 हजार 736 बच्चे गंभीर कुपोषित पाए गए। इधर विभाग ने गंभीर कुपोषित चिन्हांकित बच्चों में से 2408 बच्चों को प्राथमिकता के आधार पर एन.आर.सी में भर्ती कर उपचार शुरु कर उन्हें पोषण आहार देना शुरू कर दिया है। वहीं गंभीर एनिमिक 539 बच्चों का ब्लड ट्रांसफ्यूजन कर करीब निर्जलीकरण वाले 6737 बच्चों को संस्थागत उपचार दिया जा रहा है। 

डॉ. प्रज्ञा तिवारी ने बताया कि दलों ने जांच के दौरान 2351 बच्चों में जन्मजात शारीरिक विकृति की पहचान की। अब तक 9 माह से 5 वर्ष तक आयु के 23 लाख 39 हजार 862 बच्चों को विटामिन-ए की अनुपूरक खुराक दी गई। साथ ही, 2 माह से कम उम्र के 1390 संक्रमित बच्चों की पहचार कर उन्हें उपचार दिया गया।

गौरतलब है कि प्रदेश में 10 जून से शुरू दस्तक अभियान 20 जुलाई तक जारी रहेगा। अभियान में दस्तक-दल गांवों में घर-घर पहुंचकर 5 वर्ष आयु तक के बच्चों की जाँच करेंगे। कुपोषण और जन्मजात विकृतियों सहित संक्रमण से ग्रसित बच्चों को चिन्हांकित कर उनका उपचार भी किया जा रहा है।

Latest News

Top Trending