Top Connect

दिग्गि विजय एक सहस्त्र के साथ...

विकास में विजय एक का 8 माह का सफर
नवीन ऊर्जा के साथ जनता की सेवा ही लक्ष्य
चल पढ़े विजय एक पथ की ओर...
भोपाल @ पूर्वा शर्मा त्रिवेदी. महाभारत काल में यक्ष ने धर्मराज युधिष्ठर से पूछा था कि आसमान से ऊंचा कौन है, जिसके जवाब में युधिष्ठिर ने पिता को आसमान से ऊंचा होने का दर्जा दिया। युधिष्ठर की अभिव्यक्ति आज भी सार्थक है। पिता केवल एक रिश्ता ही नहीं बल्कि संतान की ताकत है। बचपन से लेकर आत्मनिर्भर बनने तक की यात्रा में सभी लोगों को अपने पिता का पूरा सहयोग मिलता है। इंसान के जीवन में पिता ही ऐसा पहला व्यक्ति है, जो अपनी संतान को जिंदगी के सबसे ऊंचे मुकाम पर बैठा देखना चाहता है।
15666436080.jpeg

दिग्गि विजय एक सहस्त्र के साथ......
मध्यप्रदेश में कुछ ऐसी ​शख्सियत है जिन्होंने अपनी सफलता के लिए अपने पिता को आदर्श माना है। वो नाम है राघौगढ़ के बाबा साहेब जयवर्धन दिग्गिविजय सिंह। इन्हें महाराज,कुंवर के नाम से भी जाना जाता है। राजनीति के जरिए पिता ने दलित, शोषित, उत्पीड़ित व गरीब आदमी की सेवा करना,भलाई करने की सीख व ईमानदारी,सच्चाई व शुचिता के साथ जीवन जीने का पाठ पढ़ाया। जयवर्धन का कहना है कि हमारा परिवार पीढ़ियों से जनता की सेवा करता आ रहा है। गांव गांव में हमारा पारिवारिक सम्बन्ध है। जयवर्धन कहते है की पिता से प्राप्त संस्कार से आज उन्हें खुशी व आत्म संतुष्टि दोनों है।

15666436081.jpeg

पिता की राह पर चल पढ़े विजय एक पथ की ओर...
देहरादून के दून स्कूल से प्रारंभिक शिक्षा,दिल्ली के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से बी.कॉम और विदेश से लोक प्रशासन में मास्टर डिग्री करने के बाद पिता की राह पर चल पढ़े। 2013 में जयवर्द्धन पहली बार राघौगढ़ से विधानसभा सदस्य निर्वाचित हुए थे। वहीं 2018 में 15वीं विधानसभा में जयवर्द्धन को एक सेवक के रूप में जिला गुना के राघौगढ़ की जनता ने दूसरी बार सेवा का मौका दिया।

15666444890.jpeg

मध्य प्रदेश में 15 साल के वनवास के बाद जब एक बार फिर कांग्रेस सरकार को मौका मिला तो मुख्यमंत्री कमल नाथ को अपनी टीम में युवा और उर्जावान जनता द्वारा चुने गए सेवक मिले। 25 दिसंबर को जयवर्द्धन सिंह ने दिग्गि विजय एक सहस्त्र के साथ मंत्रि-मण्डल में केबिनेट मंत्री की शपथ ग्रहण की। आज वे मध्यप्रदेश सरकार के सबसे महत्वपूर्ण विभाग नगरीय आवास एवं विकास के मंत्री है।

15666436082.jpeg

मध्यप्रदेश के विकास में विजय एक का 8 माह का सफर...
मध्यप्रदेश सरकार को आठ माह पूर्ण होने जा रहे है। प्रदेश के विकास के पथ और जनता की सेवाकार्य कर रहे नगरीय विकास एवं आवास विभाग के मंत्री जयवर्धन प्रतिदिन जनता के बीच में रहकर उनकी परेशानियों को सुनते है और तत्काल प्रभाव से समस्या का निरकारण करने का प्रयास करते है। जयवर्धन ने आते साथ ही मुख्यमंत्री कमल नाथ के नेतृत्व में प्रदेशवासियों के बीच अपनी वर्षों पुरानी परिपक्व पार्टी की पहचान प्रदर्शित करते हुए किसान,युवा,महिलाओं और प्रदेश की उन्नति में सहायक कई प्रकार की घोषणाओं से अपनी पाली की शुरुआत की। धीरे धीरे उन तमाम परेशानियों को भी दूर किया जा रहा है जिनसे लोग अब तक दो-चार हो रहे है।
15666436083.jpeg


नवीन ऊर्जा के साथ जनता की सेवा ही लक्ष्य
उर्जावान,साहसी,उत्साहित और लगनशील युवा मंत्री जयवर्धन अपनी टीम के साथ अपने कार्य के प्रति पुर्णतः समर्पित है,तो वहीं नवीन ऊर्जा के साथ जनता की सेवा का लक्ष्य रख प्रतिदिन जनता के बीच नजर आते है। हांल ही में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जब सभी मंत्री अपने अपने प्रभार वाले जिले में ध्वजारोहण और परेड की सलामी ले रहे थे तब आगर मालवा में जयवर्धन सिंह सलामी लेने के साथ ही जानता का दिल भी जीत रहे थे । तेज़ बारिश का मौसम उस पर भीगे मैदान में कदम ताल मिलाते सैनिकों की टुकड़ी ,जिसके जोश को देख कर मंत्री भी देश प्रेम से ओतप्रोत होते नजर आए। मूसलाधार बारिश की परवाह किए बिना ही मंत्री वीर सिपाहियों का अभिवादन करने उनके समक्ष जा पहुंचे और उनकी सलामी ली। प्रदेशवासियों के प्रति उनके इस व्यवहार ने सभी का मन मोह लिया। ग्रामीण क्षेत्रों में भ्रमण की बारी आई तो ग्रामीणों के भोजन से उन्होंने अपनी भूख की संतुष्टि की। अपने कार्य के प्रति उनकी ये लगन और जनता के प्रति प्रेम किसी से छुपा नहीं है। राजघराने से संबंध होते हुए भी बाबा साहब ज़मीन से जुड़े हुए नजर आते हैं।

अब तक के कार्य पर एक नजर
15666436084.jpeg

शहरी अधोसंरचना में स्वच्छ पेयजल तथा सीवेज प्रबंधन को प्रमुखता देते हुए उन्होंने विभागीय बजट में 838 करोड़ 19 लाख रूपये का प्रावधान किया।

शहरी अधोसंरचना निर्माण के लिये वांछित राशि की व्यवस्था के लिये केन्द्र और राज्य शासन के वित्तीय संसाधनों के साथ ही विश्व स्तरीय वित्त पोषक संस्थाओं से सहायता ली जा रही है। वर्ल्ड बैंक से लगभग 1080 करोड़, ए.डी.बी. से 5400 करोड़ और के. एफ. डब्ल्यू. से 525 करोड़ रूपये के ऋण/अनुदान अनुबंध किए।  

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री ने बताया कि प्रदेश के 66 नगरों में पेयजल के 2682 करोड़ और 19 नगरों में सीवरेज के 925 करोड़ के कार्य प्रगति पर हैं। नर्मदा नदी के तटीय 16 नगरीय निकायों में 707 करोड़ के सीवरेज के कार्य अभी चल रहे हैं। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री ने 6 अगस्त को एशियन डेव्हलपमेंट बैंक के प्रतिनिधियों के साथ शहरों की पेयजल योजनाओं के संबंध में चर्चा की।

इंदौर में जल  शक्ति अभियान के शुभारंभ पर हुई कार्यशाला में कहा कि सुरक्षित भविष्य के लिये पानी की हर बूँद को बचाना होगा। भूमिगत जल-स्तर को बढ़ाने की जरूरत है। रूफ वाटर हॉर्वेस्टिंग का कार्य व्यापक स्तर पर करवायें।

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह और केन्द्रीय शहरी और आवास मामलों के मंत्री श्री हरदीप सिंह पुरी की उपस्थित में नई दिल्ली में भोपाल और इंदौर मेट्रो रेल प्रोजेक्ट के लिए एम.ओ.यू. हुआ। 

15666444891.jpeg

Latest News

Top Trending