Top Connect

गीता मानवमात्र के कल्याण का अद्वितीय ग्रंथ है डॉ.अवधेशपुरी

पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाना चाहिए गीता
शैक्षणिक संस्थानों में पढ़ाया जाए पाठ
ग्रंथों का इतिहास महत्व रखता है
उज्जैन. गीता मानवता के कल्याण का अद्भुत उपहार एवं कर्तव्यबोध का अद्वितीय ग्रंथ है। भगवान श्रीकृष्ण युध्द क्षेत्र में किंकर्तव्य विमूढ़ हुए अर्जुन के माध्यम से जीवन रूपी संघर्ष क्षेत्र में कर्तव्य विमुख मनुष्य मात्र को कर्तव्य परायणता का उपदेश प्रदान करते है। महाभारत का युद्ध प्रत्येक मनुष्य के अंदर देवी एवं आसुरी वृत्तियों के संघर्ष के रूप में चलता रहता हैं,जिसमें जीत सदैव देवी वृत्ति की ही होती हैं।
15119649750.jpeg
उक्त उद्गार परमहंस डॉ. अवधेशपुरी महाराज ने गीता जयंती महोत्सव के अवसर पर काशी विश्वनाथ धाम सांवेर रोड़ इंदौर में व्यक्त किए। आपने बताया कि भगवान के उपदेश के बाद अर्जुन का मोह यानी अज्ञान नष्ट हो जाता है।
15119649751.jpeg
वर्तमान शिक्षा प्रणाली हमें मूल ज्ञान प्रदान न करते हुए हमें आजीविका के संचालन के माध्यम प्रदान कर रही है। गीता को शैक्षणिक संस्थानों में सिलेबस का हिस्सा बनाना चाहिये। कार्यक्रम में ट्रस्टियों ने  महाराज श्री का सम्मान भी किया। 

Latest News

Top Trending

Connected citizen gwalior

  • Gwalior-DPRO-GWALIOR