Top Connect

प्रदेश की पंचायतों के लिए मिसाल बनी ग्राम पंचायत शाहपुर

शक्कर नदी पर 10 हजार बोरियों से बना बोरी बंधान
14 लाख 85 हजार रूपए से बना पंचायत भवन
ई- कक्ष में कम्प्यूटर की आधुनिकतम सुविधा
नरसिंहपुर. जिले की जनपद पंचायत चीचली की ग्राम पंचायत शाहपुर अपने अच्छे कार्यों की वजह से प्रदेश में अन्य पंचायतों के लिए मिसाल बन गई है। ग्राम पंचायत में प्रधानमंत्री आवास, तालाब, खेल मैदान, शक्कर नदी पर 10 हजार बोरियों से बनाया गया बोरी बंधान, शांति धाम,पक्की साफ- सुथरी सड़कें, उत्तम गुणवत्ता से नवनिर्मित पंचायत भवन स्वच्छ, सुन्दर हैं।

शाहपुर ग्राम पंचायत में प्रधानमंत्री आवास योजना के पहले चरण का शत-प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त कर लिया है। पंचायत में 40 हितग्राहियों के लिए गुणवत्तायुक्त प्रधानमंत्री आवास तैयार हो गये हैं। आवासों में हितग्राहियों का गृह प्रवेश हो चुका है।

मनरेगा और जिला पंचायत निधि से 14 लाख 85 हजार रूपए लागत से सर्वसुविधायुक्त नव-निर्मित पंचायत भवन बनकर तैयार है। पंचायत भवन के कम्प्यूटर ई- कक्ष में कम्प्यूटर की आधुनिकतम सुविधा में उपलब्ध है। सरपंच, ग्राम पंचायत सचिव, ग्राम रोजगार सहायक के अलग- अलग कक्ष के साथ एक हाल भी पंचायत भवन में तैयार करवाया गया है।
15227187660.jpeg
यहां एक अतिथि कक्ष भी बनाया गया है। इसमें बैठने एवं विश्राम करने की सुविधा है। पंचायत भवन परिसर को विभिन्न प्रकार के उपयोगी पौधे लगाकर उसे सुंदर स्वरूप दिया गया है। ग्राम पंचायत भवन में प्रसाधन की अच्छी सुविधा है। पंचायत भवन की दीवार पर महत्वपूर्ण टेलीफोन नम्बर भी लिखे गये हैं। पंचायत भवन की दीवारों पर सुंदर पेंटिंग की गई है। नव-निर्मित पंचायत भवन का 14 नवम्बर 2017 को शुभारंभ किया गया है। ग्राम पंचायत शाहपुर के सरपंच किशोर धुर्वे और सचिव राजेश कौरव पंचायत के कार्यों को गुणवत्ता के साथ पूरा करते हैं। यहां बनाये गये शांतिधाम में छाया और पानी की पर्याप्त व्यवस्था की गई है।

ग्राम पंचायत शाहपुर द्वारा जनवरी में आगामी महिनों की पानी की आवश्यकता को देखते हुए 10 हजार बोरियों से शक्कर नदी के पुल के पास बोरी बंधान बनाया गया है। इस बोरी बंधान से बड़ी मात्रा में जल राशि का संचय हो गया है। अब लोगों को निस्तार,नहाने,कपड़े धोने आदि रोज की दिनचर्या के लिए और मवेशियों एवं गांवों की अन्य जरूरतों के लिए पानी भरपूर मात्रा में उपलब्ध है। गर्मी के दिनों में वन्यप्राणी भी अपनी प्यास बुझाने के लिए अब बोरी बंधान तक पहुंचते हैं और पानी पीते हैं।

Latest News

Top Trending

Connected citizen jabalpur

  • Narsingpur-DPRO-JABALPUR