Top Connect

मलयगिरी के चंदन से होगा राधा-मदनमोहन का श्रृंगार

श्रद्धालुओं को अद्भुत छवि के दर्शन का मिलेगा लाभ
भगवान को ठंडक प्रदान करने के लिए होगा श्रृंगार
18 अप्रैल से प्रतिदिन 8 घंटे तक कर सकेंगे दर्शन
उज्जैन. भरतपुरी इस्काॅन मंदिर में श्री राधा मदनमोहन का अक्षय तृतीया 18 अप्रैल से 4000 रुपए किलो के चंदन से श्रृंगार किया जाएगा। प्रतिदिन सुबह 8.30 से दोपहर 1 व शाम 4 से 8 बजे तक कुल 8 घंटे श्रद्धालु भगवान की इस अद्भुत छवि के दर्शन कर सकेंगे। गर्मी में भगवान को ठंडक प्रदान करने के लिए यह श्रृंगार  किया जाता है। मंदिर में 21 दिन तक चंदन यात्रा उत्सव मनाया जाएगा, जो 18 अप्रैल से शुरू होकर ज्येष्ठ कृष्ण नवमी 9 मई तक चलेगा।
15239317270.jpeg
उत्सव के कारण रोज सुबह 7.15 बजे की जाने वाली दर्शन आरती 8.30 बजे से की जाएगी। मंदिर के पीआरओ पं राघव पंडित दास ने बताया कि उत्सव के पहले सात दिन 18 से 24 अप्रैल तक भगवान की मूल प्रतिमा पर चंदन से लेप किया जाएगा। भगवान इन दिनों पीले स्वर्ण रंग में भक्तों को दर्शन देकर अभिभूत करेंगे। इसके अलावा मंदिर में विराजित नरसिंह भगवान सहित अन्य प्रतिमाओं को भी चंदन लगाएंगे।

मंदिर के पीआरओ राघव पंडित दास ने बताया एक माह से भक्त चंदन यात्रा के लिए उड़ीसा के मलय गिरी से मंगवाए गए मलय चंदन को घिसकर श्रृंगार  के लिए तैयार कर रहे हैं। यह चंदन 4000 रुपए किलो में मिलता है। 21 दिन के लिए 60 हजार रुपए का 15 किलो चंदन मंगाया है। इसी चंदन से भगवान का 7 दिन श्रृंगार किया जाएगा। शेष 14 दिन भगवान के विग्रह पर चंदन लगाकर उत्सव मनाएंगे।



Latest News

Top Trending

Connected temple

  • Iskcon Temple Ujjain