Top Connect

कृष्ण की शिक्षण स्थली में होगा विराट गुरुकुल सम्मेलन

28 से 30 अप्रैल तक चलेगा सम्मेलन
देश-विदेश के गुरुकुलों की लगेगी प्रदर्शनी
इको फ्रेंडली होगा विराट गुरुकुल सम्मेलन
उज्जैन. श्री कृष्ण की शिक्षण स्थली उज्जैन में मानव संसाधन विकास मंत्रालय के द्वारा संचालित सांदीपनि राष्ट्रीय वेद विद्या प्रतिष्ठान में 28 अप्रैल से तीन दिवसीय विराट गुरुकुल सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। चिंतामन रोड स्थित राष्ट्रीय वेद विद्या प्रतिष्ठान के परिसर में होने वाले अंतराष्ट्रीय गुरुकुल सम्मेलन की खास बात यह है कि यह ईको फ्रेंडली होगा। सम्मेलन में पॉलीथिन का उपयोग पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा। वहीं परिसर में बनाए गए चार पंडालों में औषधीय व वेदिक पौधों से हरियाली की जाएगी और आने-जाने के लिए ई-रिक्शा चलेगी। आपको बता दे कि कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर देशभर से आए 200 कार्यकर्ता जुटे हैं। चार पंडालों में एक मुख्य पंडाल होगा जो एसी रहेगा। एक पंडाल में गुरुकुलों की प्रदर्शनी लगेगी, जिसमें देश-विदेश के गुरुकुलों की जानकारी दी जाएगी। एक पंडाल संतों के प्रवचन का होगा। सभी धर्मों व संप्रदायों के संत रहेंगे। 
15246225940.jpeg
गुरुकुल सम्मेलन में डॉ. भागवत मुख्य वक्ता 
सम्मेलन का उद्घाटन सत्र 28 अप्रैल की शाम 4 से 6.30 बजे  होगा। इसमें संघ प्रमुख डॉ. मोहन भागवत मुख्य वक्ता रहेंगे। वहीं केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर मुख्य अतिथि होंगे व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान अध्यक्षता करेंगे। केंद्रीय शिक्षा राज्यमंत्री सत्यपाल सिंह, संस्कृति राज्यमंत्री सुरेंद्र पटवा व डॉ. सच्चिदानंद जोशी, स्वामी गोविंददेव गिरि पुणे, स्वामी राजकुमार दास अयोध्या, स्वामी संवित सोमगिरि बीकानेर मौजूद रहेंगे। समापन सत्र 30 को दोपहर 2.30 से शाम 4 बजे तक रहेगा। मुख्य वक्ता संघ के सह सरकार्यवाह सुरेश सोनी रहेंगे व अतिथि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ होंगे। अध्यक्षता वेद विद्या प्रतिष्ठान के उपाध्यक्ष प्रो. रवींद्र मुले करेंगे। 

विशेष अतिथियों के​ लिए एसी कॉटेज 
विशेष अतिथियों के लिए एसी कॉटेज भी बनाए जा रहे हैं। अन्य प्रतिनिधियों के रहने के लिए शहर के होटल, धर्मशालाएं व निजी घरों में भी व्यवस्था की गई है। तीन दिन में 3500 से ज्यादा लोगों के इस सम्मेलन में भाग लेने की उम्मीद है।

ये रहेंगे कार्यक्रम 
देश-विदेश से आने वाले गुरुकुल संचालक, शिक्षक और विद्यार्थी अपनी विशेषताओं का प्रदर्शन भी करेंगे। मंडल के विभिन्न सत्रों में केवल आमंत्रित ही भाग ले सकेंगे। आम लोगों के लिए प्रदर्शनी स्थल खुला रहेगा। आम लोगों के लिए 28 अप्रैल को शाम 7 से रात 8.30 बजे तक गुरुकुलों की मंचीय प्रस्तुति, 29 अप्रैल को सुबह 8 से 9.15 बजे तक योग, सूर्यनमस्कार, मल्लखंभ, घुड़सवारी का प्रदर्शन व शाम को मंचीय प्रस्तुति तथा 30 अप्रैल को सुबह 8 से 9.15 बजे तक योग आदि की प्रस्तुति रहेगी। 

अधिक जानकारी के लिए प्रतिष्ठान की वेबसाइट पर कर सकते है संपर्क 

Latest News

Top Trending

Connected sanatandharm

  • Sanatandharm Connect