Top Connect

राज्य सरकार श्रमिकों के बच्चों के लिये प्रायवेट मेडिकल कॉलेज की फीस भी भरेगी. मुख्यमंत्री

गरीब के बच्चे में योग्यता है तो वह आगे बढ़े
हर व्यक्ति को मिलेगा जमीन का टुकड़ा
910 करोड़ 89 लाख की दी सौगात
उज्जैन. गरीब के बच्चे में यदि योग्यता है,तो वह आगे बढ़ने का हक रखता है। श्रमिकों एवं मेहनतकश इंसानों को उनके हक से वंचित नहीं रखा जायेगा। मध्य प्रदेश में अब कोई भी गरीब बिना धरती के टुकड़े के नहीं रहेगा। उसको इतनी जमीन का मालिक बनाया जायेगा, जितने पर उसका मकान बनाया जा सके। इस सम्बन्ध में कानून बना दिया गया है। यह बात रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उज्जैन में आयोजित 
तेन्दूपत्ता संग्राहक एवं श्रमिक सम्मेलन में कही। 
15274293790.jpeg
मुख्यमंत्री ने कहा जनकल्याण योजना में जात-पात नहीं पूछी जायेगी, सभी को समान रूप से लाभ दिया जायेगा। प्रदेश का हर मजदूर इस योजना के लिये पात्र है। साथ ही हर वह व्यक्ति इस योजना का लाभ लेने का पात्र है, जिसके पास ढाई एकड़ से कम खेती है और इंकमटैक्स प्रदाता नहीं है।
15274293791.jpeg
आपको बता दे कि रविवार को दीप प्रज्वलन कर सम्मेलन का शुभारम्भ किया। सम्मेलन की शुरूआत करने के पूर्व मुख्यमंत्री ने कन्याओं का पूजन किया। मुख्यमंत्री ने विशाल श्रमिक सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि उज्जैन जिले में 4 लाख 70 हजार लोगों का मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना के तहत पंजीयन हो चुका है। सरकार ने पंजीयन एकदम आसान कर दिया है, केवल एक आवेदन के माध्यम से पंजीयन हो जायेगा और आवेदन की जांच भी नहीं की जायेगी। आवेदन आवेदक द्वारा स्वयं प्रमाणित किया जायेगा और सरकार इसे मान लेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह योजना एक अप्रैल 2017 से लागू कर दी गई है और 13 जून को समारोहपूर्वक इस योजना के लाभ वितरित किये जायेंगे।
15274293792.jpeg
मध्य प्रदेश की धरती पर पैदा होने वाले हर व्यक्ति को जमीन का टुकड़ा
मुख्यमंत्री ने उपस्थित जन-समुदाय को जानकारी देते हुए बताया कि मध्य प्रदेश की धरती पर पैदा होने वाले प्रत्येक व्यक्ति को जमीन का टुकड़ा दिया जायेगा। योजना के तहत पंजीकृत व्यक्ति के गरीब बच्चे को आगे पढ़ाई के लिये स्कूल शिक्षा एवं उच्च शिक्षा दोनों ही स्तर पर फीस सरकार द्वारा भरी जायेगी। आयुष्मान योजना के साथ-साथ मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान एवं राज्य बीमारी सहायता को जोड़के गरीब व्यक्ति का नि:शुल्क इलाज करवाया जायेगा। पंजीकृत श्रमिकों एवं अन्य वर्ग के कामगारों को प्रसूति सहायता के तहत गर्भवती होने पर 4 हजार रूपये एवं प्रसव उपरान्त 12 हजार रूपये की राशि प्रदान की जायेगी। प्रत्येक गरीब परिवार को अधिकतम 200 रूपये माह में बल्ब, पंखा एवं टीवी चलाने में व्यय होने वाली बिजली प्रदान की जायेगी। एक लाख मजदूरों का कौशल उन्नयन कर उनको ऋण देकर रोजगार से जोड़ा जायेगा। पंजीकृत श्रमिक की असामयिक मृत्यु होने पर 18 से 59 आयुवर्ग के परिवार के मुखिया को पर 2 लाख रूपये, दुर्घटना मृत्यु होने पर 4 लाख रूपये की बीमा राशि प्रदान की जायेगी। अन्त्येष्टि सहायता के लिये 5 हजार रूपये दिये जायेंगे।
किसान हितैषी सरकार
15274293793.jpeg
नर्मदा को चंबल तक ले जाया जायेगा
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि किसानों के हित में उनकी सरकार द्वारा जितने कार्य किये गये हैं, उतने पहले कभी नहीं हुए। उन्होंने कहा कि उज्जैन जिले में विगत वर्ष के समर्थन मूल्य के गेहूं की खरीदी पर 67 करोड़ रूपये किसानों के खाते में डाला जा चुका है। जून माह में 40 हजार किसानों को इस वर्ष की समर्थन मूल्य की खरीदी के एवज में प्रोत्साहन राशि 265 रूपये प्रतिक्विंटल दी जायेगी। यह राशि 78 करोड़ रूपये है। इसी तरह लहसुन में प्रोत्साहन राशि 800 रूपये प्रतिक्विंटल दी गई है और जिले के किसानों को 14 करोड़ रूपये दिया जा चुका है। उन्होंने कहा कि प्याज के सम्बन्ध में भी सरकार ने निर्णय लेते हुए 400 रूपये प्रति क्विंटल कृषक प्रोत्साहन राशि किसानों के खाते में डाली जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा दुग्ध उत्पादक किसानों की बकाया राशि की जानकारी मिलने पर उनके द्वारा उज्जैन दुग्ध संघ को 30 करोड़ रूपये स्वीकृत कर दिये गये हैं, इससे किसानों को उनके बकाया का भुगतान किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने नर्मदा में शिप्रा का पानी डाल दिया है। गंभीर और नर्मदा को जोड़ने का कार्य चल रहा है। शीघ्र ही इसको विस्तारित कर चंबल तक ले जाया जायेगा।

धरती, पानी, हवा पर सभी का हक
मुख्यमंत्री ने कहा कि धरती, पानी, हवा पर सभी का हक है। ईश्वर ने सभी को एक जैसा बनाया तो अमीर और गरीब क्यों है। हम अमीर-गरीब की खाई मिटाना चाहते हैं। जो मेहनतकश हैं उनकी गरीबी कैसे दूर हो, इसके प्रयास निरन्तर किये जा रहे हैं। प्रदेश सरकार गरीबी दूर करने के प्रयास के रूप में 1 रूपये किलो गेहूं, 1 रूपये किलो चावल और 1 रूपये किलो नमक का वितरण कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री ने पिछले 4 सालों में भारत का मान दुनिया में बढ़ाया है। केन्द्र सरकार की उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना एवं सौभाग्य योजना निश्चित रूप से गरीबी दूर करने में मील का पत्थर साबित होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में आने वाले 4 सालों में 40 लाख घर बनाये जायेंगे।

भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन
15274293794.jpeg
श्रमिक सम्मेलन में केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री श्री थावरचन्द गेहलोत ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा भ्रष्टाचारमुक्त प्रशासन दिया जा रहा है। जन्म से लेकर मृत्यु तक विभिन्न योजनाओं के माध्यम से जरूरतमन्दों की सेवा की जा रही है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने श्रमिकों के हित में एक बड़ी योजना बनाकर क्रियान्वित कर दी है। असंगठित श्रमिकों को इस योजना से बड़ा लाभ मिलने वाला है। उन्होंने कहा कि मैं भी श्रमिक रहा हूं और श्रमिकों के लिये संघर्ष किया है। विगत सरकारों द्वारा श्रमिकों के हित में कोई काम नहीं किया गया है। उन्होंने नागदा में नर्मदा का पानी पहुंचाने की मांग की।

असंगठित श्रमिक कल्याण योजना अद्वितीय
लोकसभा सांसद डॉ.चिन्तामणि मालवीय ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने जो सौगात प्रदेश के नागरिकों को दी है, वह अद्वितीय है। असंगठित श्रमिकों के लिये यह योजना निश्चित रूप से उनके जीवन में परिवर्तन लायेगी। मुख्यमंत्री सेवा, संवेदना एवं करूणा से प्रेरित होकर सदैव अन्तिम पंक्ति के व्यक्ति की सेवा में रत रहते हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा हाल ही में 4 वर्ष पूर्ण किये गये हैं। पिछले 4 वर्षों में देश में शत-प्रतिशत ग्रामों में विद्युतीकरण कर दिया गया है।  7.5 लाख प्रधानमंत्री आवास बनाये गये हैं। किसानों की चिन्ता करने में मुख्यमंत्री का कोई सानी नहीं है। किसान के नाम पर आन्दोलन करने वाले बेवजह भोलेभाले लोगों को भड़का रहे हैं। लोगों को जागरूक रहकर किसी के बहकावे में नहीं आना चाहिये।

दुग्ध संघ को 30 करोड़ रू. स्वीकृत
मुख्यमंत्री द्वारा उज्जैन दुग्ध संघ के दुग्ध उत्पादकों की बकाया राशि का भुगतान करने के लिये 30 करोड़ रूपये स्वीकृत किये गये हैं। इस पर उज्जैन दुग्ध संघ के अध्यक्ष श्री महेन्द्रसिंह बना, उपाध्यक्ष श्री मनोहर पाटीदार एवं संचालक मण्डल द्वारा मुख्यमंत्री का पुष्पहार एवं स्मृति चिन्ह भेंटकर दुग्ध उत्पादकों की ओर से स्वागत किया गया एवं आभार व्यक्त किया गया।
श्रमिक सम्मेलन में हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया
15274293795.jpeg
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने श्रमिक सम्मेलन में विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित होने वाले हितग्राहियों को हितलाभ के प्रमाण-पत्र देकर प्रतीकात्मक रूप से लाभान्वित किया गया। इस अवसर पर केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री श्री थावरचन्द गेहलोत एवं अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद थे। मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना के तहत 5 हजार रूपये की अन्त्येष्टि सहायता एवं 2 लाख रूपये की अनुग्रह सहायता के स्वीकृति-पत्र श्रीमती सोहनबाई रामवासा, आनन्दीबाई रामवासा, रूकसानाबी ग्राम ब्यावरा, नागदा की श्रीमती सुनीता चावला, उन्हेल की श्रीमती गोदावरीबाई को दिये गये। इसी तरह नूरबानो पति नवाब खान नागदा को कर्मकार मण्डल कल्याण सहायता योजना अन्तर्गत 1 लाख 5 हजार रूपये का स्वीकृति-पत्र दिया गया।
15274293796.jpeg
मदनराव टगारे उज्जैन एवं सिद्धनाथ जमालपुरा को स्मार्टकार्ड, उज्जैन की हर्षिता एवं मधु को 16 हजार रूपये प्रसूति सहायता स्वीकृति-पत्र, चरण पादुका योजना अन्तर्गत मायाराम एवं गीताबाई को चरण पादुका, पानी की बॉटल एवं साड़ी, उज्जैन निवासी शीतल कुशवाह को मुख्यमंत्री कल्याण युवा योजना अन्तर्गत 2 लाख रूपये, जमालपुरा की राजूबाई को मुख्यमंत्री कल्याणी पेंशन 300 रूपये प्रतिमाह, मुख्यमंत्री ऋण समाधान योजना अन्तर्गत गोगापुर के पदमसिंह, भोमलवास के जब्बार, बमनई के बापू को योजना सम्बन्धी प्रमाण-पत्र, मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना अन्तर्गत लोकेश पिता राजेन्द्र उज्जैन को 30 लाख रूपये का ऋण स्वीकृति-पत्र, श्रीमती अंजलि जाटवा को 1 करोड़ का ऋण स्वीकृति-पत्र, प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना अन्तर्गत पूजा सितोले, सपना नागर, लाड़ली लक्ष्मी योजना अन्तर्गत कु.मिष्ठी और अंशी को योजना सम्बन्धी प्रमाण-पत्र, प्रधानमंत्री आवास योजना अन्तर्गत गांवड़ीलोधा के अन्तरलाल, खामरिया के भंवरनाथ, लोटियाजुनार्दा के रतनलाल, इटावा के राधेश्याम व अर्जुन को घर की चाबी भेंट की गई। ब्रजराजखेड़ी के शंकरलाल शर्मा को मुख्यमंत्री सोलर पम्प योजना अन्तर्गत 5 एचएसबी का सबमर्सिबल पम्प भेंट किया गया।
15274293797.jpeg
910 करोड़ 89 लाख की सौगात दी
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने श्रमिक सम्मेलन में 910 करोड़ रूपये की लागत के विभिन्न निर्माण कार्यों का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने स्मार्ट सिटी योजना के अन्तर्गत अंडरग्राउण्ड डक्टिंग एवं स्मार्ट रोड के 271.74 करोड़ के कार्यों का भूमिपूजन, स्मार्ट सिटी के इन्क्यूबेशन सेन्टर तथा सेन्ट्रल कंट्रोल एण्ड कमांड सेन्टर हेतु 1.74 करोड़ के कार्य, स्मार्ट सिटी के 97 स्मार्ट क्लास रूम लागत 2.59 करोड़, लोक निर्माण विभाग के 22 मार्गों के निर्माण एवं उन्नयन के 417.78 करोड़ के कार्य तथा मप्र सड़क विकास निगम के बड़नगर-सुन्दराबाद-खरसोदकला-उन्हेल मार्ग, सुन्दराबाद-खाचरौद मार्ग एवं रूनिजा-सतरूंडा मार्ग तथा महिदपुर-पानबिहार-जीवाजी नगर मार्ग कुल लागत 217.04 करोड़ रूपये का लोकार्पण किया।
15274293798.jpeg
श्रमिक सम्मेलन में ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन, सांसद डॉ.सत्यनारायण जटिया, विधायक डॉ.मोहन यादव, दिलीपसिंह शेखावत,  अनिल फिरोजिया, बहादुरसिंह चौहान, मुकेश पण्ड्या, सतीश मालवीय, महापौर श्रीमती मीना जोनवाल, यूडीए अध्यक्ष जगदीश अग्रवाल, राज्य लघु वनोपज संघ के अध्यक्ष  महेश कोरी, संभागायुक्त  एमबी ओझा, आईजी  राकेश गुप्ता, डीआईजी रमणसिंह सिकरवार, कलेक्टर मनीष सिंह, पुलिस अधीक्षक सचिन अतुलकर, स्मार्ट सिटी सीईओ अवधेश शर्मा, एडीएम जीएस डाबर, जिला योजना समिति के सदस्य इकबालसिंह गांधी, कर्मचारी संघ के अध्यक्ष  रमेशचन्द्र शर्मा, श्याम बंसल, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष किशनसिंह भटोल, पूर्व विधायक लालसिंह राणावत,  शिवा कोटवानी सहित गणमान्य अतिथि मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन स्वामी मुस्कुराके श्री शैलेन्द्र व्यास ने किया।


Latest News

Top Trending

Connected citizen ujjain

  • Ujjain-DPRO-UJJAIN